सुप्रीम कोर्ट ने खारिज की विनय की याचिका, पहुंचा मौत के करीब

नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट ने निर्भया के दोषी विनय की याचिका शुक्रवार को खारिज कर दी है। कोर्ट ने कहा कि मेडिकल रिपोर्ट के मुताबिक दोषी विनय की न सिर्फ शारीरिक हालत ठीक है, बल्कि मानसिक हालत भी ठीक है। विनय की याचिका खारिज होने के बाद अब तीन दोषियों के पास कोई विकल्प नही बचा है। दोषी फांसी के नजदीक पहुंच चुके हैं।

आपको बता दें कि राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने दोषी विनय शर्मा की दया याचिका खारिज कर दी थी। उसने मानसिक हालत ठीक नहीं होने व राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के सामने सभी दस्तावेज नहीं रखे गए होने की बात कहकर सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल की थी। जिस पर सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने दोषी विनय की याचिका खारिज कर दी है। कोर्ट ने कहा कि राष्ट्रपति के सामने सभी दस्तावेज रखे गए थे।

दो बार डेथ वारंट पर लगी रोक
एक तरफ पूरा देश निर्भया के दोषियों की फांसी का इंत्जार कर रहा है। लकिन दोषी हर बार कानून का फायदा उठाकर बचते आ रहे है। इन दोषियों के दो बार डेथ वारंट जारी हो चुके है। लेकिन कानूनी विकल्प होने के चलते दोनों बार ही उनके डेथ वारंट पर रोक लगा दी गई। निभर्या की मां ने कोर्ट सें अपील की ​है कि दोषियों के डेथ वारंट जल्द जारी किए जाए।