चौकी प्रभारी बनने के लिए नही चलेगी सिफारिस, देना होगा इंटरव्यू

गाजियाबाद के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने तैनाती के लिए पारदर्शी व्यवस्था शुरू कर दी है। नई व्यवस्था के तहत चौकी इंचार्ज बनने के लिए उपनिरीक्षकों को इंटरव्यू देना होगा। इसमें उनकी योग्यता, कार्य कुशलता, जानकारी, क्राइम की समझ एवं पुराना सर्विस रिकॉर्ड देखने के बाद पोस्टिंग दी जाएगी। शुक्रवार को 4 उपनिरीक्षकों को पोस्टिंग दी गई है।

आपको बता दें कि एसएसपी कलानिधि नैथानी ने बताया अब थाना प्रभारी हों या चौकी प्रभारी किसी को भी सिफारिश या जुगाड़ से तैनाती नहीं मिलेगी। तैनाती चाहने वाले सभी उपनिरीक्षक या निरीक्षकों को इंटरव्यू की प्रक्रिया से गुजरना होगा। उन्हें साबित करना होगा कि वह उस पद के लिए हैं भी या नहीं। उन्होंने बताया कि शुक्रवार को हुए इंटरव्यू में अन्य जनपदों से पुलिस लाइन में आमद करने वाले 25 दरोगा शामिल हुए। सभी दरोगाओं का सामान्य ज्ञान देखा गया। उनका पुराना ट्रैक रिकॉर्ड देखा गया। उनसे सवाल पूछे गए। इसमें केवल चार दरोगा पास हो सके हैं। इन चारो दरोगाओं में शशि कुमार को साहिबाबाद शालीमार गार्डन चौकी, प्रदीप सिंह को कविनगर थाना की शास्त्रीनगर चौकी, बृजेश कुमार को नगर कोतवाली की घंटाघर चौकी और राघवेंद्र सिंह को विजयनगर थाना की प्रताप विहार चौकी का प्रभारी बनाया गया है। चौकी आवंटन के साथ ही उन्हें कुछ टास्क भी दिए गए हैं।